-->

देश भक्ति कविताएँ Desh Bhakti Patriotic Poems in Hindi

देश-भक्ति कविताएँ,
Desh Bhakti/Patriotic Poems in Hindi

desh-bhakti-patriotic-poems-in-hindi

राम प्रसाद बिस्मिल
सरफ़रोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है
जिन्दगी का राज-चर्चा अपने क़त्ल का
मिट गया जब मिटने वाला (अन्तिम रचना)
मुखम्मस-हैफ़ हम जिसपे कि तैयार थे मर जाने को
खटमल और बेचारी जूं
न चाहूँ मान दुनिया में, न चाहूँ स्वर्ग को जाना
हे मातृभूमि ! तेरे चरणों में सिर नवाऊँ
अरूज़े कामयाबी पर कभी तो हिन्दुस्तां होगा
भारत जननि तेरी जय हो विजय हो
ऐ मातृभूमि तेरी जय हो, सदा विजय हो
बला से हमको लटकाए अगर सरकार फांसी से-तराना
देश की ख़ातिर मेरी दुनिया में यह ताबीर हो
दुनिया से गुलामी का मैं नाम मिटा दूंगा
आज़ादी-इलाही ख़ैर ! वो हरदम नई बेदाद करते हैं
देश हित पैदा हुये हैं देश पर मर जायेंगे
महादेवी वर्मा
क्रांति गीत
देशगीत : अनुरागमयी वरदानमयी
देशगीत : मस्तक देकर आज खरीदेंगे हम ज्वाला
ध्वज गीत: विजयनी तेरी पताका
मैथिलीशरण गुप्त
मातृभूमि
भारतवर्ष
भारत माता का मंदिर यह
भारत का झण्डा
मातृ-मूर्ति
भारतवर्ष की श्रेष्ठता
हमारा उद्भव
स्वराज्य
हरिवंशराय बच्चन
स्वतन्त्रता दिवस
आज़ाद हिन्दुस्तान का आह्वान
शहीदों की याद में
शहीद की माँ
राष्ट्र ध्वजा
भारतमाता मन्दिर
नौ अगस्त, '४२
क्रांति दीप
कवि का दीपक
घायल हिन्दुस्तान
आज़ादी का नया वर्ष
देश के सैनिकों से
देश के युवकों से
आज़ादी के बाद
देश-विभाजन-१
क्रांति दीप
देश-विभाजन-३
देश के नेताओं से
देश के नाविकों से
आजादी की पहली वर्षगाँठ
आजादी की दूसरी वर्षगाँठ
गणतंत्र दिवस
गणतन्त्र पताका
झण्डा
बन्दी
बन्दी मित्र
रामधारी सिंह दिनकर
कलम, आज उनकी जय बोल-शहीद-स्तवन
किसको नमन करूँ मैं भारत?
जनतन्त्र का जन्म
जियो जियो जय हिन्दुस्तान
भारत/जब आग लगे
सिपाही
हे मेरे स्वदेश!
जयशंकर प्रसाद
अरुण यह मधुमय देश हमारा
हिमाद्रि तुंग श्रृंग से प्रबुद्ध शुद्ध भारती
भारत महिमा
अशोक गौड़ 'अकेला'
आखिर मैं कब तक सोऊंगा
आँसू देश प्रेम के
धर्म और कौमी एकता
जागेंगे और जगायेंगे
करे सोई है ज्ञानी
चेतना
बटा हुआ दिल
रंग लायेगी कभी तो
तिरंगे के रंग सा कफन जिसका
आंचल भिगोती जा रही
शहीदों से
कर देंगे भष्मसात !
उदय हो रहा नव प्रभात
नया इन्कलाब लाता है।
बीसवीं सदी का रावण
किसने उड़ाया धुन्ध
इंसान हम बनें सब
ढूढ़ना है आत्म दर्शन !
दोस्ताना हाथ चाहिये
SeeLidComment

लेबल

कविता (295) कहानी संग्रह (29) खड़ी बोली (4) ग़ज़लें (24) गीत (8) गीत बन्ना-बन्नी (2) छायावादी (1) छायावादी रचनाकार (6) जाने माने कवि (35) दीवाली पर कविताएँ (2) देश-भक्ति कविताएँ (17) दोहे (17) धार्मिक कविता (2) नाटक (3) नारी श्रृंगार पर कविताएं (1) पद (5) पशु-पक्षियों पर कविताएं (1) पहेलियाँ (1) पुस्तक (77) पोथी (2) फलों-सब्जियों पर कविताएं (1) बसन्त बहार पर कविताएँ (1) बाल कविताएँ (2) ब्रज भाषा रचनाकार (1) भक्तिकालीन रचनाकार (1) भजन (1) मनुष्य जीवन पर कविताएँ (1) मेले-खेल-तमाशे पर कविताएं (1) मौसम पर कविताएं (1) रचनाकार (31) राजस्थानी लोक गीत (2) लोक गीत सोहर अवधी (1) लोक गीत सोहर भोजपुरी (1) लोकगीत कजरी कजली (3) लोकगीत सोहर ब्रज (1) शायर (7) शेर (1) श्री कृष्ण पर कविताएं (78) श्लोक (1) संस्मरण (3) सावन-गीत (1) सूफ़ी-रंग (6) सोहर लोक गीत (3) हिन्दी लोक गीत (18) होली पर कविताएँ (3) Devotional (1) Good Morning Message (3) Kahani (42) Love Shayari (3) Novel (88) rose day (1) Sad Shayari (1) Shayari (1) Whatsapp DP Status (1)