Type Here to Get Search Results !

Ads

देश भक्ति गीत | Desh-Bhakti Geet

desh-bhakti-geet

 

देश भक्ति गीत  | Desh-Bhakti Geet | Songs/Patriotism

List of Lata Mangeshkar desh bhakti song lyrics:

1. Lata Mangeshkar Desh bhakti song lyrics hindi - Aye Mere Watan Ke Logo (Hindi)  | ऐ मेरे वतन के लोगों

ऐ मेरे वतन के लोगों
ज़रा आँख में भर लो पानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
तुम भूल ना जाओ उनको
इसलिए सुनो ये कहानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
 
जब घायल हुआ हिमालय
खतरे में पड़ी आज़ादी
जब तक थी साँस लड़े वो
जब तक थी साँस लड़े वो
फिर अपनी लाश बिछा दी
संगीन पे धर कर माथा
सो गये अमर बलिदानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
 
जब देश में थी दीवाली
वो खेल रहे थे होली
जब हम बैठे थे घरों में
जब हम बैठे थे घरों में
वो झेल रहे थे गोली
थे धन्य जवान वो अपने
थी धन्य वो उनकी जवानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
 
कोई सिख कोई जाट मराठा
कोई सिख कोई जाट मराठा
कोई गुरखा कोई मदरासी
कोई गुरखा कोई मदरासी
सरहद पर मरनेवाला
सरहद पर मरनेवाला
हर वीर था भारतवासी
जो खून गिरा पर्वत पर
वो खून था हिंदुस्तानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
 
थी खून से लथ-पथ काया
फिर भी बन्दूक उठाके
दस-दस को एक ने मारा
फिर गिर गये होश गँवा के
जब अन्त-समय आया तो
जब अन्त-समय आया तो
कह गए के अब मरते हैं
खुश रहना देश के प्यारों
खुश रहना देश के प्यारों
अब हम तो सफ़र करते हैं
अब हम तो सफ़र करते हैं
क्या लोग थे वो दीवाने
क्या लोग थे वो अभिमानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
 
तुम भूल न जाओ उनको
इस लिये कही ये कहानी
जो शहीद हुए हैं उनकी
ज़रा याद करो क़ुरबानी
जय हिन्द जय हिन्द
जय हिन्द की सेना
जय हिन्द जय हिन्द
जय हिन्द की सेना
जय हिन्द 
जय हिन्द 
जय हिन्द
 

2. Lata Mangeshkar Desh bhakti song lyrics hindi - Saare Jahaan Se Achcha | सारे जहाँ से अच्छा 

सारे जहाँ से अच्छा,
हिन्दोस्ताँ हमारा
सारे जहाँ से अच्छा,
हिन्दोस्ताँ हमारा
हो, हम बुलबुलें हैं इसकी, 
ये गुलसितां हमारा
सारे जहाँ से अच्छा,
हिन्दोस्ताँ हमारा
परबत है इसके ऊँचे,
प्यारी है इसकी नदिया
परबत है इसके ऊँचे,
प्यारी है इसकी नदिया
आकाश में इसीके गुजरी
हजारो सदियाँ
गुजरी हजारो सदियाँ
हसता है बिजलियों पर ये
आशियाँ हमारा
हम बुलबुलें हैं इसकी,
ये गुलसितां हमारा
सारे जहाँ से अच्छा,
हिन्दोस्ताँ हमारा
 
वीरान कर दिया था आंधी
ने इस चमन को
वीरान कर दिया था आंधी
ने इस चमन को
देकर लहू बचाया गांधी
ने इस चमन को
गांधी ने इस चमन को
रक्षा करेगा इसकी हर
नौजवान हमारा
हम बुलबुलें हैं इसकी,
ये गुलिसताँ हमारा
सारे जहाँ से अच्छा,
हिन्दोस्ताँ हमारा
 

3. Lata Mangeshkar desh bhakti song lyrics (Sanskrit, hindi) - Vande mataram  |  वन्दे मातरम्

 
वन्दे मातरम्
सुजलां सुफलां मलयजशीतलाम्
शस्यशामलां मातरम् ।
शुभ्रज्योत्स्नापुलकितयामिनीं
फुल्लकुसुमितद्रुमदलशोभिनीं
सुहासिनीं सुमधुर भाषिणीं
सुखदां वरदां मातरम्
 
कोटि-कोटि-कण्ठ-कल-कल-निनाद-कराले
कोटि-कोटि-भुजैर्धृत-खरकरवाले,
अबला केन मा एत बले ।
बहुबलधारिणीं नमामि तारिणीं
रिपुदलवारिणीं मातरम्
 
तुमि विद्या, तुमि धर्म
तुमि हृदि, तुमि मर्म
त्वं हि प्राणा: शरीरे
बाहुते तुमि मा शक्ति,
हृदये तुमि मा भक्ति,
तोमारई प्रतिमा गडि
मन्दिरे-मन्दिरे मातरम्
 
त्वं हि दुर्गा दशप्रहरणधारिणी
कमला कमलदलविहारिणी
वाणी विद्यादायिनी, नमामि त्वाम्
नमामि कमलां अमलां अतुलां
सुजलां सुफलां मातरम् 
वन्दे मातरम् ।
 
श्यामलां सरलां सुस्मितां भूषितां
धरणीं भरणीं मातरम् 
वन्दे मातरम् ।

4 . Mohammed Rafi desh bhakti song lyrics hindi - Jahan Dal Dal Pe Sone Ki Chidiya  |  जहाँ डाल-डाल पर सोने की चिड़िया

जहाँ डाल-डाल पर
सोने की चिड़िया करती है बसेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
जहाँ डाल-डाल पर
सोने की चिड़िया करती है बसेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का
पग-पग लगता डेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
जय भारती, जय भारती, जय भारती, जय भारती
 
ये धरती वो जहाँ ऋषि मुनि
जपते प्रभु नाम की माला
 
हरी ॐ, हरी ॐ, हरी ॐ, हरी ॐ
 
जहाँ हर बालक एक मोहन है
और राधा इक-इक बाला
और राधा इक-इक बाला
जहाँ सूरज सबसे पहले आ कर
डाले अपना फेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
जहाँ गंगा, जमुना, कृष्ण और
कावेरी बहती जाए
जहाँ उत्तर, दक्षिण, पूरब, पश्चिम
को अमृत पिलवाये
ये अमृत पिलवाये
कहीं ये फल और फूल उगाये
केसर कहीं बिखेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
अलबेलों की इस धरती के
त्यौहार भी हैं अलबेले
कहीं दीवाली की जगमग है
होली के कहीं मेले
कहीं दीवाली की जगमग है
 
होली के कहीं मेले, होली के कहीं मेले
जहाँ राग रंग और हँसी खुशी का
चारो और है घेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
जहाँ डाल-डाल पर
सोने की चिड़िया करती है बसेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
जहाँ आसमान से बातें करते
मंदिर और शिवाले
किसी नगर मे किसी द्वार पर
कोई न ताला डाले,
कोई न ताला डाले
और प्रेम की बंसी जहाँ बजाता
आये शाम सवेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
जहाँ सत्य, अहिंसा और धर्म का
पग-पग लगता डेरा
वो भारत देश है मेरा
वो भारत देश है मेरा
 
जय भारती, जय भारती, जय भारती, जय भारती 

( Famous desh bhakti geet )

5 . Mohammed Rafi desh bhakti song lyrics hindi - Yeh Desh Hai Veer Jawanon Ka  |  ये देश है वीर जवानों का

ओ… ओ… ओ…
 
ये देश है वीर जवानों का
अलबेलों का मस्तानों का
इस देश का यारों
 
होय
 
इस देश का यारों क्या कहना
ये देश है दुनिया का गहना
 
ओ… ओ… ओ…
 
यहाँ चौड़ी छाती वीरों की
यहाँ भोली शक्लें हीरों की
यहाँ गाते हैं राँझे
 
होय
 
यहाँ गाते हैं राँझे मस्ती में
मचती हैं धूमें बस्ती में
 
ओ… ओ… ओ…
 
पेड़ों पे बहारें झूलों की
राहों में कतारें फूलों की
यहाँ हँसता है सावन
 
होय
 
यहाँ हँसता है सावन बालों में
खिलती हैं कलियाँ गालों में
 
ओ… ओ… ओ…
 
कहीं दंगल शोख जवानों के
कहीं करतब तीर कमानों के
यहाँ नित नित मेले
 
होय
 
यहाँ नित नित मेले सजते हैं
नित ढोल और ताशे बजते हैं
 
ओ… ओ… ओ…
 
दिलबर के लिये दिलदार हैं हम
दुश्मन के लिये तलवार हैं हम
मैदां में अगर हम
मैदां में अगर हम डट जाएं
मुश्किल है के पीछे हट जाएं
 
हुर्र, हे, हा
हुर्र, हे, हा
हुर्र, हे, हा
 
हड़िपा, हड़िपा, हड़िपा 

( famous desh bhakti gaane )

6 . Mohammad Aziz And Kavita Krishnamurthy desh bhakti song lyrics hindi - Dil Diya Hai Jaan Bhi Denge  |  दिल दिया है जान भी देंगे ऐ वतन तेरे लिए

मेरा कर्मा तू, मेरा धर्मा तू
तेरा सब कुछ मैं, मेरा सब कुछ तू
हर करम अपना करेंगे
 
हर करम अपना करेंगे, ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
हर करम अपना करेंगे, ऐ वतन तेरे लिए
 
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
हर करम अपना करेंगे, ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
 
तू मेरा कर्मा, तू मेरा धर्मा, तू मेरा अभिमान है
 
ऐ वतन मेहबूब मेरे तुझपे दिल कुर्बान है
ऐ वतन मेहबूब मेरे तुझपे दिल कुर्बान है
 
हम जिएंगे और मरेंगे, ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
 
हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई, हमवतन हमनाम है
हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई, हमवतन हमनाम है
जो करे इनको जुदा मजहब नहीं इल्ज़ाम है
हम जिएंगे और मरेंगे, ऐ वतन तेरे लिए
 
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
 
तेरी गलियों में चलाकर नफरतों की गोलियां
लूटते हैं कुछ लुटेरे दुल्हनों की डोलियाँ
लूटते हैं कुछ लुटेरे दुल्हनों की डोलियाँ
लूट रहे है आप वो अपने घरों को लूटकर
लूट रहे है आप वो अपने घरों को लूटकर
खेलते हैं बेख़बर अपने लहू से होलियां
 
हम जिएंगे और मरेंगे, ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
हर करम अपना करेंगे, ऐ वतन तेरे लिए
 
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
हर करम अपना करेंगे, ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जां भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए
 
ऐ वतन तेरे लिए
ऐ वतन तेरे लिए 

( famous desh bhakti geet )

7 . Mukesh desh bhakti song lyrics hindi - Chhodo Kal Ki Baatein - Hum Hindustani  |  छोड़ो कल की बातें कल की बात पुरानी

छोड़ो कल की बातें, कल की बात पुरानी
नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नई कहानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
 
छोड़ो कल की बातें, कल की बात पुरानी
नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नई कहानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
 
आज पुरानी ज़ंजीरों को तोड़ चुके हैं
क्या देखें उस मंज़िल को जो छोड़ चुके हैं
चाँद के दर पर जा पहुंचा है आज ज़माना
नए जगत से हम भी नाता जोड़ चुके हैं
नया खून है नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
 
छोड़ो कल की बातें, कल की बात पुरानी
नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नई कहानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
 
हमको कितने ताजमहल हैं और बनाने
कितने हैं अजंता हम को और सजाने
अभी पलटना है रुख कितने दरियाओं का
कितने पर्वत राहों से हैं आज हटाने
नया खून है नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
 
छोड़ो कल की बातें, कल की बात पुरानी
नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नई कहानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
 
आओ मेहनत को अपना ईमान बनायें
अपने हाथों को अपना भगवान बनायें
राम की इस धरती को गौतम की भूमि को
सपनों से भी प्यारा हिंदुस्तान बनायें
नया खून है नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
 
छोड़ो कल की बातें, कल की बात पुरानी
नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नई कहानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
हर ज़र्रा है मोती आँख उठाकर देखो
माटी में सोना है हाथ बढ़ाकर देखो
सोने की ये गंगा है चांदी की यमुना
चाहो तो पत्थर से धान उगाकर देखो
नया खून है नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी
 
छोड़ो कल की बातें, कल की बात पुरानी
नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नई कहानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी 

( famous desh bhakti song )

8 . Mohammed Rafi desh bhakti song lyrics hindi - Kar Chale Hum Fida  |  कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों

कर चले हम फ़िदा, जान-ओ-तन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
कर चले हम फ़िदा, जान-ओ-तन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
कर चले हम फ़िदा, जान-ओ-तन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
साँस थमती गई, नब्ज़ जमती गई
फिर भी बढ़ते कदम को ना रुकने दिया
कट गये सर हमारे तो कुछ ग़म नहीं
सर हिमालय का हमने न झुकने दिया
मरते-मरते रहा बाँकपन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
कर चले हम फ़िदा, जान-ओ-तन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
ज़िन्दा रहने के मौसम बहुत हैं मगर
जान देने की रुत रोज़ आती नहीं
हुस्न और इश्क दोनों को रुसवा करे
वो जवानी जो खूँ में नहाती नहीं
आज धरती बनी है दुल्हन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
कर चले हम फ़िदा, जान-ओ-तन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
राह कुर्बानियों की ना वीरान हो
तुम सजाते ही रहना नये काफ़िले
फ़तह का जश्न इस जश्न के बाद है
ज़िन्दगी मौत से मिल रही है गले
बाँध लो अपने सर से कफ़न साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
कर चले हम फ़िदा, जान-ओ-तन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
खेंच दो अपने खूँ से जमीं पर लकीर
इस तरफ आने पाये ना रावण कोई
तोड़ दो हाथ अगर हाथ उठने लगे
छूने पाये ना सीता का दामन कोई
राम भी तुम तुम्हीं लक्ष्मण साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
 
कर चले हम फ़िदा, जान-ओ-तन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों
अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों 

( famous desh bhakti geet )

9. Lata Mangeshkar desh bhakti song lyrics hindi -  Aye Mere Watan Ke Logon  |  ऐ मेरे वतन के लोगों ज़रा आँख में भर लो पानी

ऐ मेरे वतन के लोगों, तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सबका, लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर, वीरों ने है प्राण गंवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो, कुछ याद उन्हें भी कर लो
जो लौट के घर न आये, जो लौट के घर न आये
ऐ मेरे वतन के लोगों, ज़रा आँख में भर लो पानी
जो शहीद हुए हैं उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी
 
ऐ मेरे वतन के लोगों, ज़रा आँख में भर लो पानी
जो शहीद हुए हैं उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी
 
जब घायल हुआ हिमालय, ख़तरे में पड़ी आज़ादी
जब तक थी साँस लडे वो
जब तक थी साँस लडे वो, फिर अपनी लाश बिछा दी
संगीन पे धर कर माथा, सो गये अमर बलिदानी
जो शहीद हुए हैं उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी
 
जब देश में थी दीवाली, वो खेल रहे थे होली
जब हम बैठे थे घरों में, वो झेल रहे थे गोली
थे धन्य जवान वो अपने, थी धन्य वो उनकी जवानी
जो शहीद हुए हैं उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी
कोई सिख कोई जाट मराठा, कोई सिख कोई जाट मराठा
कोई गुरखा कोई मद्रासी, कोई गुरखा कोई मद्रासी
सरहद पर मरने वाला, सरहद पर मरने वाला
हर वीर था भारतवासी
 
जो खून गिरा पर्वत पर, वो खून था हिन्दुस्तानी
जो शहीद हुए हैं उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी
 
थी खून से लथपथ काया, फिर भी बंदूक उठाके
दस दस को एक ने मारा, फिर गिर गये होश गँवा के
जब अंत समय आया तो,
जब अंत समय आया तो कह गये के अब मरते हैं
जब अंत समय आया तो कह गये के अब मरते हैं
खुश रहना देश के प्यारों, खुश रहना देश के प्यारों
अब हम तो सफ़र करते हैं, अब हम तो सफ़र करते हैं
क्या लोग थे वो दीवाने, क्या लोग थे वो अभिमानी
जो शहीद हुए हैं उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी
 
तुम भूल ना जाओ उनको इसलिए कही ये कहानी
जो शहीद हुए हैं उनकी, ज़रा याद करो कुर्बानी
 
जय हिंद, जय हिंद की सेना
जय हिंद, जय हिंद की सेना
जय हिंद जय हिंद जय हिंद 

( famous desh bhakti geet )

10. Mahendra Kapoor desh bhakti song lyrics hindi -  Hai Preet Jahan Ki Reet  |  है प्रीत जहाँ की रीत सदा

जब ज़ीरो दिया मेरे भारत ने
भारत ने
मेरे भारत ने
दुनिया को तब गिनती आयी
 
तारों की भाषा भारत ने
दुनिया को पहले सिखलायी
देता ना दशमलव भारत तो
यूँ चाँद पे जाना मुश्किल था
धरती और चाँद की दूरी का
अंदाज़ा लगाना मुश्किल था
 
सभ्यता जहाँ पहले आयी
सभ्यता जहाँ पहले आयी
पहले जनमी है जहाँ पे कला
अपना भारत वो भारत है
जिसके पीछे संसार चला
संसार चला और आगे बढ़ा
यूँ आगे बढ़ा
बढ़ता ही गया
भगवान करे ये और बढ़े
बढ़ता ही रहे और फूले-फले
बढ़ता ही रहे और फूले-फले
 
है प्रीत जहाँ की रीत सदा
है प्रीत जहाँ की रीत सदा
है प्रीत जहाँ की रीत सदा
मैं गीत वहाँ के गाता हूँ
 
भारत का रहने वाला हूँ
भारत की बात सुनाता हूँ
 
है प्रीत जहाँ की रीत सदा
 
काले – गोरे का भेद नहीं
हर दिल से हमारा नाता है
कुछ और न आता हो हमको
हमें प्यार निभाना आता है
जिसे मान चुकी सारी दुनिया
 
 
जिसे मान चुकी सारी दुनिया
मैं बात
मैं बात वो ही दोहराता हूँ
भारत का रहने वाला हूँ
भारत की बात सुनाता हूँ
 
है प्रीत जहाँ की रीत सदा
 
जीते हो किसी ने देश तो क्या
हमने तो दिलों को जीता है
जहाँ राम अभी तक है नर में
नारी में अभी तक सीता है
इतने पावन हैं लोग जहाँ
 
 
इतने पावन हैं लोग जहाँ
मैं नित-नित
मैं नित-नित शीश झुकाता हूँ
भारत का रहने वाला हूँ
भारत की बात सुनाता हूँ
 
इतनी ममता नदियों को भी
जहाँ माता कह के बुलाते हैं
इतना आदर इन्सान तो क्या
पत्थर भी पूजे जाते हैं
उस धरती पे मैंने जनम लिया
 
 
उस धरती पे मैंने जनम लिया
ये सोच
ये सोच के मैं इतराता हूँ
भारत का रहने वाला हूँ
भारत की बात सुनाता हूँ
 
है प्रीत जहाँ की रीत सदा 

( famous desh bhakti gaane )

11. Manna Dey desh bhakti song lyrics hindi -  Ae Mere Pyare Watan  |  ऐ मेरे प्यारे वतन ऐ मेरे बिछड़े चमन

ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन
तुझपे दिल क़ुरबान
 
तू ही मेरी आरज़ू, तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान
 
ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन
तुझपे दिल क़ुरबान
 
तेरे दामन से जो आए उन हवाओं को सलाम
तेरे दामन से जो आए उन हवाओं को सलाम
चूम लूँ मैं उस ज़ुबाँ को जिसपे आए तेरा नाम
सबसे प्यारी सुबह तेरी, सबसे रंगीं तेरी शाम
तुझपे दिल क़ुरबान
 
तू ही मेरी आरज़ू, तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान
 
माँ का दिल बन के कभी सीने से लग जाता है तू
माँ का दिल बन के कभी सीने से लग जाता है तू
और कभी नन्हीं सी बेटी बन के याद आता है तू
जितना याद आता है मुझको उतना तड़पाता है तू
तुझपे दिल क़ुरबान
 
तू ही मेरी आरज़ू, तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान
 
छोड़ कर तेरी ज़मीं को दूर आ पहुंचे हैं हम
छोड़ कर तेरी ज़मीं को दूर आ पहुंचे हैं हम
फिर भी है ये ही तमन्ना तेरे ज़र्रों की क़सम
हम जहाँ पैदा हुए उस जगह ही निकले दम
तुझपे दिल क़ुरबान
 
तू ही मेरी आरज़ू, तू ही मेरी आबरू
तू ही मेरी जान
 
ऐ मेरे प्यारे वतन, ऐ मेरे बिछड़े चमन
तुझपे दिल क़ुरबान 

( famous desh bhakti geet )

12. Sonu Nigam, Rup Kumar Rathore desh bhakti song lyrics hindi -  Sandese Aate Hai  |  संदेशे आते हैं हमें तड़पाते हैं

हो हो हो..
 
संदेशे आते हैं हमें तड़पाते हैं
तो चिट्ठी आती है वो पूछे जाती है
 
के घर कब आओगे के घर कब आओगे
लिखो कब आओगे
के तुम बिन ये घर सूना सूना है
 
संदेशे आते हैं हमें तड़पाते हैं
तो चिट्ठी आती है वो पूछे जाती है
के घर कब आओगे के घर कब आओगे
लिखो कब आओगे
के तुम बिन ये घर सूना सूना है
 
किसी दिलवाली ने किसी मतवाली ने
हमें खत लिखा है ये हमसे पूछा है
किसी की साँसों ने किसी की धड़कन ने
किसी की चूड़ी ने किसी के कंगन ने
किसी के कजरे ने किसी के गजरे ने
महकती सुबहों ने मचलती शामों ने
अकेली रातों ने अधूरी बातों ने
तरसती बाहों ने और पूछा है तरसी निगाहों ने
के घर कब आओगे, के घर कब आओगे
लिखो कब आओगे
के तुम बिन ये दिल सूना सूना है
 
संदेशे आते हैं हमें तड़पाते हैं
तो चिट्ठी आती है वो पूछे जाती है
के घर कब आओगे के घर कब आओगे
लिखो कब आओगे
के तुम बिन ये घर सूना सूना है
 
मोहब्बत वालों ने, हमारे यारों ने
हमें ये लिखा है,
कि हमसे पूछा है
हमारे गाँवों ने, आम की छांवों ने
पुराने पीपल ने, बरसते बादल ने
खेत खलियानों ने, हरे मैदानों ने
बसंती बेलों ने, झूमती बेलों ने
लचकते झूलों ने, दहकते फूलों ने
चटकती कलियों ने,
और पूछा है गाँव की गलियों ने
के घर कब आओगे, के घर कब आओगे
लिखो कब आओगे
के तुम बिन गाँव सूना सूना है
 
संदेशे आते हैं हमें तड़पाते हैं
तो चिट्ठी आती है वो पूछे जाती है
के घर कब आओगे के घर कब आओगे
लिखो कब आओगे
के तुम बिन ये घर सूना सूना है
 
ओ ओ ओ…
 
कभी एक ममता की, प्यार की गंगा की
जो चिट्ठी आती है, साथ वो लाती है
मेरे दिन बचपन के, खेल वो आंगन के
वो साया आंचल का, वो टीका काजल का
वो लोरी रातों में, वो नरमी हाथों में
वो चाहत आँखों में, वो चिंता बातों में
बिगड़ना ऊपर से, मोहब्बत अंदर से,
करे वो देवी माँ
यही हर खत में पूछे मेरी माँ
के घर कब आओगे, के घर कब आओगे
लिखो कब आओगे
के तुम बिन आँगन सूना सूना है
 
संदेशे आते हैं हमें तड़पाते हैं
तो चिट्ठी आती है वो पूछे जाती है
के घर कब आओगे के घर कब आओगे
लिखो कब आओगे
के तुम बिन ये घर सूना सूना है
 
ऐ गुजरने वाली हवा बता
मेरा इतना काम करेगी क्या
मेरे गाँव जा, मेरे दोस्तों को सलाम दे
मेरे गाँव में है जो वो गली
जहाँ रहती है मेरी दिलरुबा
उसे मेरे प्यार का जाम दे
उसे मेरे प्यार का जाम दे
वहीं थोड़ी दूर है घर मेरा
मेरे घर में है मेरी बूढ़ी माँ
मेरी माँ के पैरों को छू के तू
उसे उसके बेटे का नाम दे
 
ऐ गुजरने वाली हवा ज़रा
मेरे दोस्तों, मेरी दिलरुबा
मेरी माँ को मेरा पयाम दे
उन्हें जा के तू ये पयाम दे
 
मैं वापस आऊंगा, मैं वापस आऊंगा
 
घर अपने गाँव में उसी की छांव में,
कि माँ के आँचल से गाँव के पीपल से,
किसी के काजल से
किया जो वादा था वो निभाऊंगा
 
मैं एक दिन आऊंगा मैं एक दिन आऊंगा
मैं एक दिन आऊंगा मैं एक दिन आऊंगा
मैं एक दिन आऊंगा मैं एक दिन आऊंगा
मैं एक दिन आऊंगा मैं एक दिन आऊंगा 

( famous desh bhakti geet )

13. Mukesh & Rajendra Mehta & Mahendra Kapoor desh bhakti song lyrics hindi -  Mera Rang De Basanti Chola  |  मेरा रंग दे बसंती चोला

मेरा रंग दे बसंती चोला, मेरा रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला ओये
रंग दे बसंती चोला
माये रंग दे बसंती चोला
 
मेरा रंग दे बसंती चोला, मेरा रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला ओये
रंग दे बसंती चोला
माये रंग दे बसंती चोला
 
दम निकले इस देश की खातिर, बस इतना अरमान है
दम निकले इस देश की खातिर, बस इतना अरमान है
एक बार इस राह में मरना, सौ जन्मों के समान है
देख के वीरों की क़ुरबानी
देख के वीरों की क़ुरबानी, अपना दिल भी बोला
मेरा रंग दे बसंती चोला
 
मेरा रंग दे बसंती चोला, मेरा रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला ओये
रंग दे बसंती चोला
माये रंग दे बसंती चोला
 
जिस चोले को पहन शिवाजी, खेले अपनी जान पे
जिस चोले को पहन शिवाजी, खेले अपनी जान पे
जिसे पहन झाँसी की रानी, मिट गई अपनी आन पे
आज उसी को पहन के निकला, पहन के निकला
आज उसी को पहन के निकला, हम मस्तों का टोला
मेरा रंग दे बसंती चोला
 
मेरा रंग दे बसंती चोला, मेरा रंग दे
मेरा रंग दे बसंती चोला ओये
रंग दे बसंती चोला
माये रंग दे बसंती चोला 

( famous desh bhakti gaane )

14. Shanti Mathur desh bhakti song lyrics hindi -  Nanha Munna Rahi Hoon  |  नन्हां मुन्ना राही हूँ 

नन्हा मुन्ना राही हूं, देश का सिपाही हूं,
बोलो मेरे संग, जय हिन्द, जय हिन्द, जय हिन्द।
जय हिन्द, जय हिन्द।
नन्हा मुन्ना राही हूं, देश का सिपाही हूं,
बोलो मेरे संग, जय हिन्द, जय हिन्द, जय हिन्द।
जय हिन्द, जय हिन्द।
रस्ते पे चलूंगा न डर-डर के,
चाहे मुझे जीना पड़े मर-मर के,
मंजिल से पहले न लूंगा कहीं दम,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…
धूप में पसीना मैं बहाऊंगा जहां,
हरे-भरे खेत लहराएगें वहां,
धरती पे फाके न पाएगें जन्म,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…
नया है जमाना मेरी नई है डगर,
देश को बनाऊंगा मशीनों का नगर,
भारत किसी से रहेगा नही कम,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…
बड़ा हो के देश का सहारा बनूंगा,
दुनिया की आंखों का तारा बनूंगा,
रखूंगा ऊंचा तिरंगा परचम,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…
शांति की नगरी है मेरा ये वतन,
सबको सिखाऊंगा मैं प्यार का चलन,
दुनिया में गिरने न दूंगा कहीं बम,
आगे ही आगे बढ़ाऊंगा कदम,
दाहिने बाएं दाहिने बाएं, थम।
नन्हा मुन्ना राही हूं…

( famous desh bhakti song for children )

15. Mohammed Rafi desh bhakti song lyrics hindi -  Apni Azadi Ko Hum  |  अपनी आज़ादी को हम हरगीज मिटा सकते नहीं

अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नहीं,
अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नहीं,
सर कटा सकते हैं, लेकिन सर झुका सकते नहीं।
सर झुका सकते नहीं।
हमने सदियों में ये आजादी की नेमत पाई है,
हमने ये नेमत पाई है,
सैंकड़ों कुर्बानियां देकर ये दौलत पाई है,
हमने ये दौलत पाई है
मुस्कुरा कर खाई हैं सीनों पे अपने गोलियां,
सीनों पे अपने गोलियां,
कितने वीरानों से गुजरे हैं, तो जन्नत पाई है,
खाक में हम अपनी इज्जत को मिला सकते नहीं,
अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नहीं…
क्या चलेगी जुल्म की अहले-वफा के सामने,
अहले-वफा के सामने,
आ नहीं सकता कोई शोला हवा के सामने,
शोला हवा के सामने,
लाख फौजें ले के आए अमन का दुश्मन कोई,
लाख फौजें ले के आए अमन का दुश्मन कोई,
रुक नहीं सकता हमारी एकता के सामने,
हम वो पत्थर हैं, जिसे दुश्मन हिला सकते नहीं,
अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नहीं…
सर कटा सकते हैं, लेकिन सर झुका सकते नहीं।
सर झुका सकते नहीं।
वक्त की आवाज के हम साथ चलते जाएंगे,
हम साथ चलते जाएंगे,
हर कदम पर जिन्दगी का रुख बदलते जाएंगे,
हम रुख बदलते जाएंगे,
गर वतन में भी मिलेगा कोई गद्दारे वतन,
जो कोई गद्दारे वतन,
अपनी ताकत से हम उसका सर कुचलते जाएंगे,
एक धोखा खा चुके हैं और खा सकते नहीं,
अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नहीं…
वंदे मातरम, वंदे मातरम, वंदे मातरम,
हम वतन के नौजवां हैं हम से जो टकराएगा,
हम से जो टकराएगा,
वो हमारी ठोकरों से खाक में मिल जाएगा,
खाक में मिल जाएगा,
वक्त के तूफान में बह जाएंगे जुल्मो-सितम,
आसमां पर ये तिरंगा उम्र भर लहराएगा,
उम्र भर लहराएगा,
जो सबक बापू ने सिखलाया भुला सकते नहीं,
सर कटा सकते है लेकिन सर झुका सकते नहीं…
सर कटा सकते है लेकिन सर झुका सकते नहीं…

( famous desh bhakti song for children )

 

16. Hariharan desh bhakti song lyrics hindi - I Love My India  |  आई लव माय इंडिया

लंदन देखा, पेरिस देखा,
लंदन देखा, पेरिस देखा और देखा जापान,
माइकल देखा, एल्विस देखा, सब देखा मेरी जान,
सारे जग में कहीं नहीं है दूसरा हिंदुस्तान,
दूसरा हिंदुस्तान, दूसरा हिंदुस्तान
ये दुनिया एक दुल्हन,
ये दुनिया एक दुल्हन, दुल्हन के माथे की बिंदिया,
ये मेरा इंडिया, ये मेरा इंडिया,
आई लव माय इंडिया, आई लव माय इंडिया……
ये दुनिया एक दुल्हन,
ये दुनिया एक दुल्हन, दुल्हन के माथे की बिंदिया,
ये मेरा इंडिया, ये मेरा इंडिया,
आई लव माय इंडिया, आई लव माय इंडिया……
जब छेड़ा मल्हार किसी ने, झूम के सावन आया,
आग लगा दी पानी में जब, दीपक राग सुनाया,
सात सुरों का संगम ये जीवन गीतों की माला,
हम अपने भगवान को भी कहते हैं बांसुरी वाला,
बांसुरी वाला, बांसुरी वाला
यह मेरा इंडिया, आई लव माय इंडिया……
यह मेरा इंडिया, आई लव माय इंडिया……
पीहू पीहू बोले पपीहा, कोयल कुहू कुहू गाए,
हंसते रोते हमने जीवन के सब गीत बनाए,
यह सारी दुनिया अपने अपने गीतों को गाए,
गीत वो गाओ जिससे इस मिट्टी की खुशबू आए,
मिट्टी की खुशबू आए, आई लव इंडिया, आई लव माय इंडिया……
आई लव इंडिया, आई लव माय इंडिया……
वतन मेरा इंडिया, सजन मेरा इंडिया
ये दुनिया ये दुनिया, इक दुल्हन, इक दुल्हन
ये दुनिया, इक दुल्हन, दुल्हन के माथे की बिंदिया,
ये मेरा इंडिया, यह मेरा इंडिया,
आई लव माय इंडिया, आई लव माय इंडिया……
वतन मेरा इंडिया, सजन मेरा इंडिया
करम मेरा इंडिया, धरम मेरा इंडिया…
हो माय इंडिया, हो माय इंडिया, हो माय इंडिया, हो माय इंडिया,
जान माय इंडिया,

( famous desh bhakti song for children )

17. Mukesh desh bhakti song lyrics hindi - Jis Desh Mein Ganga Behti Hai  |  जिस देश में गंगा बहती है

होठों पे सच्चाई रहती है, जहां दिल में सफाई रहती है,
हम उस देश के वासी हैं, हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है।
होठों पे सच्चाई रहती है, जहां दिल में सफाई रहती है,
हम उस देश के वासी हैं, हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है।
मेहमां जो हमारा होता है, वो जान से प्यारा होता है,
मेहमां जो हमारा होता है, वो जान से प्यारा होता है,
ज्यादा की नहीं लालच हमको, थोड़े में गुजारा होता है,
थोड़े में गुजारा होता है,
बच्चों के लिए जो धरती मां, सदियों से सभी कुछ सहती है,
हम उस देश के वासी हैं, हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है।
कुछ लोग जो ज्यादा जानते हैं, इंसान को कम पहचानते हैं,
कुछ लोग जो ज्यादा जानते हैं, इंसान को कम पहचानते हैं,
ये पूरब है पूरब वाले, हर जान की कीमत जानते हैं,
हर जान की कीमत जानते हैं,
मिल जुल के रहो और प्यार करो, एक चीज यही जो रहती है,
हम उस देश के वासी हैं, हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है
होठों पे सच्चाई रहती है, जहां दिल में सफाई रहती है,
हम उस देश के वासी हैं, हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है।
हम कल क्या थे हम आज हैं क्या इसका ही नहीं अभिमान हमें,
हम कल क्या थे हम आज हैं क्या इसका ही नहीं अभिमान हमें,
जिस राह पे आगे बढ़ना है, है उसकी भी पहचान हमें,
है उसकी भी पहचान हमें,
इस धारा को किसने रोका, ये बंधके भला कब रहती है,
हम उस देश के वासी हैं, हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है
जो जिससे मिला सीखा हमने, गैरों को भी अपनाया हमने,
जो जिससे मिला सीखा हमने, गैरों को भी अपनाया हमने,
मतलब के लिए अंधे होकर, रोटी को नहीं पूजा हमने,
रोटी को नहीं पूजा हमने,
अब हम तो क्या सारी दुनिया, सारी दुनिया से कहती है,
हम उस देश के वासी हैं, हम उस देश के वासी हैं
जिस देश में गंगा बहती है।
होठों पे सच्चाई रहती है, जहां दिल में सफाई रहती है,
हम उस देश के वासी हैं, हम उस देश के वासी हैं,
जिस देश में गंगा बहती है।

( famous desh bhakti gaane )

18. Lata Mangeshkar,Udit Narayan, Gurdas Mann, Pritha Majmumdar desh bhakti song lyrics hindi - Aisa Desh Hai Mera  |  ऐसा देस है मेरा

अंबर हेठां धरती वसदी, एथे हर रुत हंसदी
किन्ना सोणा देस है मेरा, देस है मेरा, देस है मेरा…..
किन्ना सोणा देस है मेरा, देस है मेरा, देस है मेरा, देस है मेरा…..
धरती सुनहरी अंबर नीला, हो धरती सुनहरी अंबर नीला,
हर मौसम रंगीला, ऐसा देस है मेरा हो ऐसा देस है मेरा,
ऐसा देस है मेरा हां ऐसा देस है मेरा,
बोले पपीहा कोयल गाए, बोले पपीहा कोयल गाए,
सावन घिर के आए,
ऐसा देस है मेरा हो ऐसा देस है मेरा,
ऐसा देस है मेरा हां ऐसा देस है मेरा,
कोठे ते का बोले ओये,
चिट्ठी मेरे माहिए दी,
विच आने दा वि ना बोले ओये
चिट्ठी मेरे माहिए दी
गेहूं के खेतों में कंघी जो करे हवाएं,
रंग-बिरंगी कितनी चुनरियां उड़-उड़ जाएं,
पनघट पर पनहारन जब गगरी भरने आए,
मधुर-मधुर तानों में कहीं बंसी कोई बजाए, लो सुन लो,
कदम-कदम पे है मिल जानी, कदम-कदम पे है मिल जानी कोई प्रेम कहानी,
ऐसा देस है मेरा हो ऐसा देस है मेरा,
ऐसा देस है मेरा हां ऐसा देस है मेरा,
ओ..मेरी जुगनी दे धागे पक्के,
जुगनी ओस दे मूंह तो फब्बे,
जीनु साड इश्क दी लग्गे,
ओए साईं मेरया ओ जुगनी,
वीर मेरेया जुगनी कहंदी है,
ओ नाम साईं दा लेंदी है,
ओ दिल कड लिता ई जींद मेरिये,
बाप के कंधे चढ़ के जहां बच्चे देखे मेले,
मेलों में नट के तमाशे, कुल्फी के चाट के ठेले,
कहीं मिलती मीठी गोली, कहीं चूरन की है पुड़िया,
भोले-भोले बच्चे हैं, जैसे गुड्डे और गुड़िया,
और इनको रोज सुनाये दादी नानी, रोज सुनाये दादी नानी, इक परियों की कहानी,
ऐसा देस है मेरा हो ऐसा देस है मेरा
ऐसा देस है मेरा हां ऐसा देस है मेरा
सड़के सड़के जांदी ए मुटियारे नी,
कंडा चुभा तेरे पैर बांकिए नारे नी,
ओये नी अडिये कंडा चुभा तेरे पैर बांकिये नारे नी,
कौन कडे तेरा कांडरा मुटियारे नी,
कौन सहे तेरी पीड़ बांकिये नारे नी,
ओये नी अडिये कौन सहे तेरी पीड बांकिये नारे नी,
हो हो हो मेरे देश में मेहमानों को भगवान कहा जाता है,
वो यहीं का हो जाता है, जो कहीं से भी आता है,
आ तेरे देस को मैंने देखा तेरे देस को मैंने जाना,
आ तेरे देस को मैंने देखा तेरे देस को मैंने जाना,
जाने क्यूं ये लगता है मुझको जाना पहचाना,
यहां भी वही शाम है वही सवेरा ओ, यहां भी वही शाम है वही सवेरा,
ऐसा ही देस है तेरा जैसा देस है मेरा हां ऐसा ही देस है मेरा जैसा देस है तेरा
ऐसा देस है मेरा जैसा देस है तेरा हां ऐसा देस है मेरा जैसा देस है तेरा…

( famous desh bhakti gaane )

19. Lata Mangeshkar desh bhakti song lyrics hindi - De Di Hame Azadi  |  दे दी हमें आजादी

दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
आंधी में भी जलती रही गांधी तेरी मशाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
धरती पे लड़ी तूने अजब ढंग की लड़ाई,
दागी न कहीं तोप न बंदूक चलाई,
दुश्मन के किले पर भी न की तूने चढ़ाई,
वाह रे फकीर खूब करामात दिखाई,
चुटकी में दुश्मनों को दिया देश से निकाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
रघुपति राघव राजा राम
शतरंज बिछा कर यहां बैठा था जमाना,
लगता था कि मुश्किल है फिरंगी को हराना,
टक्कर थी बड़े जोर की दुश्मन भी था दाना,
पर तू भी था बापू बड़ा उस्ताद पुराना,
मारा वो कस के दांव कि उल्टी सभी की चाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
रघुपति राघव रजा राम
जब-जब तेरा बिगुल बजा जवान चल पड़े,
मजदूर चल पड़े थे और किसान चल पड़े,
हिन्दू हो मुसलमान सिख पठान चल पड़े,
कदमों पे तेरे कोटि-कोटि प्राण चल पड़े,
फूलों की सेज छोड़ के दौड़े जवाहरलाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
रघुपति राघव रजा राम
मन में थी अहिंसा की लगन तन पे लंगोटी,
लाखों में घूमता था लिए सत्य की सोंटी,
वैसे तो देखने में थी हस्ती तेरी छोटी,
लेकिन तुझे झुकती थी हिमालय की भी चोटी,
दुनिया में तू बेजोड़ था इंसान बेमिसाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
रघुपति राघव रजा राम
जग में कोई जिया है तो बापू तू ही जिया,
तूने वतन की राह में सबकुछ लुटा दिया,
मांगा न कोई तख्त न तो ताज ही लिया,
अमृत दिया सभी को मगर खुद जहर पिया,
जिस दिन तेरी चिता जली रोया था महाकाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
दे दी हमें आजादी बिना खड्ग बिना ढाल,
साबरमती के संत तूने कर दिया कमाल,
रघुपति राघव रजा राम, रघुपति राघव रजा राम, 
रघुपति राघव रजा राम

( famous desh bhakti gaane )

20. Hariharan desh bhakti song lyrics hindi - Bharat Humko Jaan Se Pyara Hai  |  भारत हमको जान से प्यारा है

भारत हमको जान से प्यारा है,
सबसे न्यारा गुलिस्तां हमारा है,
भारत हमको जान से प्यारा है,
सबसे न्यारा गुलिस्तां हमारा है,
सदियों से भारत भूमि, दुनिया कि शान है,
भारत मां कि रक्षा में जीवन कुर्बान है,
भारत हमको जान से प्यारा है,
सबसे न्यारा गुलिस्तां हमारा है,
उजड़े नहीं अपना चमन, टूटे नहीं अपना वतन,
गुमराह न कर दे कोई, बर्बाद न कर दे कोई,
मन्दिर यहां मस्जिद यहां, हिन्दु यहां मुस्लिम यहां,
मिलते रहे हम प्यार से, जागो …
हिन्दुस्तानी नाम हमारा है, सबसे प्यारा देश हमारा है,
हिन्दुस्तानी नाम हमारा है, सबसे प्यारा देश हमारा है,
जन्मभूमि है हमारी, शान से कहेंगे हम,
सब ही तो भाई भाई, प्यार से रहेंगे हम,
हिन्दुस्तानी नाम हमारा है, भारत हमको जान से प्यारा है,
आसाम से गुजरात तक, बंगाल से महाराष्ट्र तक
जाती कई धुन एक है, भाषा कई सुर एक है,
कश्मीर से मद्रास तक, कह दो सभी हम एक हैं,
आवाज दो हम एक हैं, जागो …

( famous desh bhakti Song )

21. Mahendra Kapoor desh bhakti song lyrics hindi - Mere Desh Ki Dharti  |  मेरे देश की धरती

आ आ आ, ओ ओ ओ
आ आ आ, ओ ओ ओ
मेरे देश की धरती
मेरे देश की धरती, सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती,
मेरे देश की धरती,
मेरे देश की धरती, सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती, मेरे देश की धरती
आ आ आ, ओ ओ ओ
आ आ आ, ओ ओ ओ
बैलों के गले में जब घुंघरू जीवन का राग सुनाते हैं
जीवन का राग सुनाते हैं,
गम कोस दूर हो जाता है, खुशियों के कंवल मुस्काते हैं,
खुशियों के कंवल मुस्काते हैं,
ओ ओ ओ
सुन के रहट की आवाजें,
सुन के रहट की आवाजें यूं लगे कहीं शहनाई बजे,
यूं लगे कहीं शहनाई बजे,
आते ही मस्त बहारों के दुल्हन की तरह हर खेत सजे,
दुल्हन की तरह हर खेत सजे,
मेरे देश की धरती,
मेरे देश की धरती, सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती, मेरे देश की धरती,
जब चलते हैं इस धरती पे हल ममता अंगड़ाइयां लेती है,
ममता अंगड़ाइयां लेती है,
क्यों न पूजें इस माटी को जो जीवन का सुख देती है,
जो जीवन का सुख देती है,
ओ ओ ओ ओ
इस धरती पे जिसने जन्म लिया,
इस धरती पे जिसने जन्म लिया उसने ही पाया प्यार तेरा,
उसने ही पाया प्यार तेरा,
यहां अपना पराया कोई नहीं,
यहां अपना पराया कोई नहीं है सब पे है मां उपकार तेरा,
है सब पे है मां उपकार तेरा,
मेरे देश की धरती
मेरे देश की धरती, सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती, मेरे देश की धरती,
ये बाग हैं गौतम नानक का खिलते हैं अमन के फूल यहां,
खिलते हैं अमन के फूल यहां,
गांधी, सुभाष, टैगोर, तिलक ऐसे हैं चमन के फूल यहां,
ऐसे हैं चमन के फूल यहां,
रंग हरा हरि सिंह नलवे से, रंग लाल है लाल बहादुर से,
रंग बना बसंती भगत सिंह, रंग बना बसंती भगत सिंह,
रंग अमन का वीर जवाहर से, रंग अमन का वीर जवाहर से,
मेरे देश की धरती,
मेरे देश की धरती, सोना उगले, उगले हीरे मोती,
मेरे देश की धरती, मेरे देश की धरती,
मेरे देश की धरती,
मेरे देश की धरती, सोना उगले, उगले हीरे मोती
मेरे देश की धरती, मेरे देश की धरती

( famous desh bhakti Song )

22. Aditya Narayan, Kumar Sanu desh bhakti song lyrics hindi - Mera Mulk Mera Desh  |  मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन

मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन,
शांति का उन्नति का प्यार का चमन,
इसके वास्ते निसार है मेरा तन मेरा मन,
ए वतन, ए वतन, ए वतन,
जानेमन, जानेमन, जानेमन,
ए वतन, ए वतन, ए वतन,
जानेमन, जानेमन, जानेमन,
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन,
शांति का उन्नति का प्यार का चमन,
इसकी मिट्टी से बने तेरे मेरे ये बदन,
इसकी धरती तेरे मेरे वास्ते गगन,
इसने ही सिखाया हमको जीने का चलन,
जीने का चलन..
इसके वास्ते निसार है मेरा तन मेरा मन,
ए वतन, ए वतन, ए वतन
जानेमन, जानेमन, जानेमन
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन
अपने इस चमन को स्वर्ग हम बनाएंगे,
कोना-कोना अपने देश का सजाएंगे,
जश्न होगा जिंदगी का, होंगे सब मगन,
होंगे सब मगन..
इसके वास्ते निसार है मेरा तन मेरा मन,
ए वतन, ए वतन, ए वतन,
जानेमन, जानेमन, जानेमन,
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन,
शांति का उन्नति का प्यार का चमन,
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन
शांति का उन्नति का प्यार का चमन,
इसके वास्ते निसार है मेरा तन मेरा मन,
ए वतन, ए वतन, ए वतन
जानेमन, जानेमन, जानेमन,
मेरा मुल्क मेरा देश मेरा ये वतन,
शांति का उन्नति का प्यार का चमन,

( famous desh bhakti Song )

शैलेन्द्र की देश भक्ति कविताएँ | Shailendra ki Desh Bhakti Kavita

होठों पे सच्चाई रहती है - शैलेन्द्र

ये चमन हमारा अपना है - शैलेन्द्र

देश की धरती ने ललकारा - शैलेन्द्र

मत रो माता, लाल तेरे बहुतेरे - शैलेन्द्र

आ अब लौट चलें - शैलेन्द्र

मेरा जूता है जापानी - शैलेन्द्र

मेरा नाम राजू घराना अनाम - शैलेन्द्र

Jane Mane Kavi (medium-bt) Hindi Kavita (medium-bt) Desh Bhakti Kavita (link)

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads