Type Here to Get Search Results !

मैथिलीशरण गुप्त Introduction Maithilisharan Gupt

Introduction-Maithilisharan-Gupt

मैथिलीशरण गुप्त
Introduction Maithilisharan Gupt

मैथिलीशरण गुप्त (3 अगस्त सन् 1886- 12 दिसम्बर 1964) का जन्म चिरगाँव, झाँसी, उत्तर प्रदेश में हुआ था।मैथिलीशरण गुप्त के पिता का नाम 'सेठ रामचरण' और माता का नाम 'श्रीमती काशीबाई' था। पिता रामचरण निष्ठावान राम भक्त थे। इनके पिता 'कनकलता' उप नाम से कविता किया करते थे । मैथिलीशरण गुप्त की प्रारम्भिक शिक्षा चिरगाँव, झाँसी के राजकीय विद्यालय में हुई । इन्होंने घर पर ही संस्कृत, हिन्दी तथा बांग्ला साहित्य का व्यापक अध्ययन किया। आपकी कविताओं में बौध्द दर्शन, महाभारत तथा रामायण के कथानक आते हैं। 


मैथिलीशरण गुप्त की कविता │Hindi Poetry of Maithilisharan Gupt

मैथिलीशरण गुप्त महाकाव्य: 

साकेत, खंड काव्य-कविता

मैथिलीशरण गुप्त संग्रह: 

जयद्रथ-वध, भारत-भारती, पंचवटी, यशोधरा, द्वापर, सिद्धराज, नहुष, अंजलि और अर्घ्य, अजित, अर्जन और विसर्जन, काबा और कर्बला, किसान, कुणाल गीत, पत्रावली, स्वदेश संगीत, गुरु तेग बहादुर, गुरुकुल, जय भारत, झंकार, पृथ्वीपुत्र, मेघनाद वध

मैथिलीशरण गुप्त नाटक: 

रंग में भंग, राजा-प्रजा, वन वैभव, विकट भट, विरहिणी व्रजांगना, वैतालिक, शक्ति, सैरन्ध्री, हिडिम्बा, हिन्दू

मैथिलीशरण गुप्त अनूदित: 

मेघनाथ वध, वीरांगना, स्वप्न वासवदत्ता, रत्नावली, रूबाइयात उमर खय्याम ।

मैथिलीशरण गुप्त की काव्य कविता
जीवन परिचय-मैथिलीशरण गुप्त हिन्दी कविता-मैथिलीशरण गुप्त
साकेत-मैथिलीशरण गुप्त पंचवटी-मैथिलीशरण गुप्त
सैरन्ध्री-मैथिलीशरण गुप्त यशोधरा-मैथिलीशरण गुप्त
भारत-भारत-मैथिलीशरण गुप्ती झंकार-मैथिलीशरण गुप्त
स्वदेश संगीत-मैथिलीशरण गुप्त किसान-मैथिलीशरण गुप्त
जयद्रथ-वध-मैथिलीशरण गुप्त पत्रावली-मैथिलीशरण गुप्त
द्वापर-मैथिलीशरण गुप्त जय भारत-मैथिलीशरण गुप्त
नहुष-मैथिलीशरण गुप्त गुरुकुल-मैथिलीशरण गुप्त

मैथिलीशरण गुप्त सर्ग
प्रथम सर्ग द्वितीय सर्ग तृतीय सर्ग
चतुर्थ सर्ग पंचम सर्ग षष्ठ सर्ग
सप्तम सर् अष्ठम सर्ग नवम सर्ग
दशम सर्ग एकादश सर्ग द्वादश सर्ग
Jane Mane Kavi (medium-bt)