Type Here to Get Search Results !

Ashok Chakradhar अशोक चक्रधर

ashokchakradharkikavita

Ashok Chakradhar 
अशोक चक्रधर

डॉ. अशोक चक्रधर (८ फ़रवरी सन् १९५१-) कवि एवं लेखक हैं। उनका हास्य-व्यंग्य के क्षेत्र में विशिष्ट योगदान है । उनका जन्म खु्र्जा (उत्तर प्रदेश) के अहीरपाड़ा मौहल्ले में हुआ। उनके पिताजी डॉ. राधेश्याम 'प्रगल्भ' अध्यापक, कवि, बाल साहित्यकार और संपादक थे। 
उन्होंने 'बालमेला' पत्रिका का संपादन भी किया। उनकी माता कुसुम प्रगल्भ गृहणी थीं। उन्होंने टेलीफ़िल्म लेखक-निर्देशक, वृत्तचित्र लेखक निर्देशक, धारावाहिक लेखक, निर्देशक, अभिनेता, नाटककर्मी, कलाकार तथा मीडिया कर्मी के रूप में भी काम किया है । वह जामिया मिलिया इस्लामिया में हिंदी व पत्रकारिता विभाग में प्रोफेसर के पद से सेवा निवृत्त होने के बाद केन्द्रीय हिंदी संस्थान तथा हिन्दी अकादमी, दिल्ली के उपाध्यक्ष पद पर कार्यरत हैं। २०१४ में उन्हें पद्म श्री से सम्मानित किया गया। 

उनके कविता संग्रह हैं:- बूढ़े बच्चे, सो तो है, भोले-भाले, तमाशा, चुटपुटकुले, हंसो और मर जायो, देश धन्या पंच कन्या, ए जी सुनिए, इसलिये बौड़म जी इसलिये, खिड़कियाँ, बोल-गप्पे, जाने क्या टपके, चुनी चुनाई, सोची समझी, जो करे सो जोकर, मसलाराम आदि।

अशोक चक्रधर के कविता संग्रह

Ashok Chakradhar Poetry Collection

जो करे सो जोकर - अशोक चक्रधर

तमाशा - अशोक चक्रधर

भोले भाले - अशोक चक्रधर

सो तो है - अशोक चक्रधर

चुटपुटकुले - अशोक चक्रधर

बोलगप्पे - अशोक चक्रधर

रंग जमा लो - अशोक चक्रधर

हंसो और मर जाओ - अशोक चक्रधर

जाने क्या टपके - अशोक चक्रधर

खिड़कियाँ - अशोक चक्रधर

ए जी सुनिए - अशोक चक्रधर

इसलिये बौड़म जी इसलिये - अशोक चक्रधर

चुनी चुनाई - अशोक चक्रधर



Tags: अशोक चक्रधर की कविता कोश,अशोक चक्रधर का जीवन परिचय,अशोक चक्रधर की कविता प्रजातंत्र, जंगल गाथा / अशोक चक्रधर,अशोक चक्रधर की कविता प्रजातंत्र,अशोक चक्रधर की कविता कोश,अशोक चक्रधर का जीवन परिचय,जंगल गाथा / अशोक चक्रधर,अशोक चक्रधर jo Kare So Joker